यह तो आप सब जानते हैं कि क्रिप्टो बाजार में उतार चढ़ाव होते रहते हैं और क्रिप्टोकरंसी हुए तेजी से बढ़ने का कारण कोई टेक्निकल चीजों से जुड़ा है

नए साल पर क्रिप्टोकरंसी या क्रिप्टो मार्केट में मैं अमेरिका में रेगुलेशन से जुड़ा एक घटनाक्रम भी है।

दिन भर क्रिप्टो करेंसी में फेर बदलाव देखने को मिलता है लेकिन इस साल बिटकॉइन की प्राइस 35 लाख के आसपास रहे हैं

लेकिन अब इसका प्राइस अप्रैल के महीने में 33 लाख है। Indian government on cryptocurrency adik jankari ke liye click par click kre

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बनाई जाने वाली क्रिप्टोकरंसी जिसको हम ई रुपया के नाम से जाना जाएगा यह एक भारत की डिजिटल करेंसी होगी

जैसी बिटकॉइन एथेरियम इत्यादि क्रिप्टोकरंसी है उन्हें की तरह क्रिप्टोकरंसी होगी । भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर विचार कर रही हैं

जल्द ही इस क्रिप्टो करेंसी लॉन्च कर दिया जाए । साल 2022 के अंत तक क्रिप्टो करेंसी को लांच कर दिया जाएगा ऐसा सुनने को मिल रहा है |

सबसे बड़ा कारण यही है की लोगों को लगता है कि क्रिप्टो करेंसी से ज्यादा पैसा कमाया जा सकता है और इसी कारण से वह क्रिप्टोकरंसी में रूचि ज्यादा रखने लगे

crypto cuurecy ki har tarah ki jankari prapat karne ke liye app cryptogyans.com par visit kar sakte ho