जैसा कि आपको पता है आज हर कोई क्रिप्टोकरंसी यों के बारे में जानना चाहता  है और उससे पैसे कमाना चाहता है । भारत में क्रिप्टो करेंसी को बढ़ावा देने  के लिए कोई किसी भी प्रकार से योजना नहीं बनाई गई है

दुनिया भर में क्रिप्टो करेंसी की डिमांड बढ़ती ही जा रही है ऐसे में भारत  सरकार अभी तक क्रिप्टोकरंसी को बढ़ावा देने के लिए किसी भी प्रकार से सफल  नहीं हो पाई है

सोशल मीडिया पर यह खबर काफी बार सुनने को मिली है कि भारतीय रिजर्व बैंक ऑफ  इंडिया दवारा जल्द ही डिजिटल करंसी लॉन्च की जाएगी और ऐसा भी सुनने को  मिला है

भारतीय रिजर्व बैंक जब तक क्रिप्टोकरंसी को लांच नहीं कर सकता जब तक उसे कैबिनेट की मंजूरी मिलने के बाद संसद में बिल पेश नहीं किया जा सकता

जब तक सरकार इस बात की अनुमति नहीं दे देती जब तक इस बात पर कोई अमल नहीं  किया जा सकता इस बीच भारतीय रिजर्व बैंक अपनी क्रिप्टोकरंसी लॉन्च नहीं कर  सकता ।

भारतीय रिजर्व बैंक Indian government on cryptocurrency के बारे में विचार  करने पर सोच रहा है की भारत सरकार द्वारा बिल पेश नहीं किया जाता

यह तो आप सब जानते हैं कि क्रिप्टो बाजार में उतार चढ़ाव होते रहते हैं और  क्रिप्टोकरंसी हुए तेजी से बढ़ने का कारण कोई टेक्निकल चीजों से जुड़ा है  |

दिन भर क्रिप्टो करेंसी में फेर बदलाव देखने को मिलता है लेकिन इस साल  बिटकॉइन की प्राइस 35 लाख के आसपास रहे हैं लेकिन अब इसका प्राइस अप्रैल के  महीने में 33 लाख है।

भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बनाई जाने वाली क्रिप्टोकरंसी जिसको हम ई रुपया के नाम से जाना जाएगा यह एक भारत की डिजिटल करेंसी होगी जैसी बिटकॉइन एथेरियम इत्यादि क्रिप्टोकरंसी है

उन्हें की तरह क्रिप्टोकरंसी होगी । भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर विचार कर रही हैं कि जल्द ही इस क्रिप्टो करेंसी लॉन्च कर दिया जाए ज्यादा जानने के लिए Learn more क्लिक करे |